anar ko english mein kya kahate hain

anar ko english mein kya kahate hain

अनार एक फल हैं जो खाने में काफी मीठा और स्वादिष्ट होता हैं यह कच्चे और पक्के दोनों ही तरह में लाल रंग के होते हैं इसका छिलका काफी कठोर होता हैं जिसके अंदर रस से भरें छोटे-छोटे कई दाने होते हैं जिन्हे खाया जाता हैं

किसी भी व्यक्ति को, कोई भी रोग हो जाए, लोग उन्हें सबसे पहले अनार के सेवन की सलाह ही देते हैं। डॉक्टर भी कमजोरी दूर करने के लिए, या इलाज के बाद स्वास्थ्य लाभ पाने के दौरान, रोगी को अनार खाने के लिए बोलते हैं।

यह भारत के सभी हिस्सों में पाया जाता हैं और इसकी खेती हिमाचल प्रदेश, और उत्तराखण्ड की पहाड़ियों पर बहुत ही अधिक किया जाता हैं और इसकी खेती ईरान एवं अफगानिस्तान में भी किया जाता है।

anar ko english mein kya kahate hain

अनार, को हिंदी में अनार, दाड़िम, उर्दू में गुल अनार और English में Pomegranate कहते हैं

अनार का वैज्ञानिक नाम – Punica granatum हैं

परिवार – Punicaceae हैं

 अनार के किस्में

अनार एक प्रसिद्ध फल हैं जो तीन किस्में में पाये जाते हैं।

1. देशी अनार

2. कन्धार अनार

3. काबुल अनार

1. देशी अनार – खट्टे एवं मीठे रस वाले होते हैं

2. कन्धार अनार – यह अनार मीठे रस वाले होते हैं

3. काबुल अनार – यह खाने में काफी मीठे होते हैं जो एक गुठली रहित अनार होता है जिसे बेदाना अनार भी कहते हैं

 अनार के उपयोग एवं फायदे

अनार में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, विटामिन और खनिज पाए जाते हैं जो काफी लाभदायक होते हैं

1. अनार को कई तरह के आयुर्वेदिक औषधि बनाने में में प्रयोग किया जाता है

2. 100 ग्राम अनार खाने पर हमारे शरीर को लगभग 65 किलो कैलोरी ऊर्जा मिलती है

3. इसमें विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स की प्रचुर मात्रा होती है जो बढ़ती उम्र के साथ ढलती सुंदरता की झुर्रियों को कम करके त्वचा को सुंदर व चमकदार बनाती है

4. अनार के सेवन से स्मरण शक्ति काफी हद तक बढ़ाई जा सकती है

5. खून की कमी वाले लोग अनार से बने चासनी का सेवन कर सकते हैं इसमें आयरन होता है जो आपकी खून की कमी को पूरा करने में काफी मदद करता है

6. अनार के पेड़ की लकड़ी काफी मजबूत होती है जिससे बने छड़ी का बुजुर्ग लोग टहलने के लिए इस्तेमाल करते हैं

7. अनार रक्तसंचार वाली बीमारियों से लड़ता है, उच्च रक्तचाप को घटाता है, सूजन और जलन में राहत पहुँचाता है

8. अनार खाने से केलेस्ट्रोल नहीं बढ़ता है । जिससे दिल की बीमारी का खतरा बहुत हद तक कम हो जाता है

9. अनार जोड़ों के दर्द को कम करने में काफी मददगार होता है

10. अनार का सेवन करने से बुढ़ापे की गति काफी हद तक धीमा होता है

11. इसमें कई ऐसे गुण होते हैं जो कैंसर की रोकथाम में सहायक बनते है

12. अनार की डाली से बनी हुई कलम पूजा-उपासना और तांत्रिक प्रयोगों में भी इस्तेमाल किया जाता है

13. अनार त्वचा के कैंसर, स्तन-कैंसर, प्रोस्टेट ग्रंथि के कैंसर और पेट में अल्सर की संभावना घटाने की दृष्टि से भी काफी बेहतर लाभदायक पाया गया है

14. सूखा रोग जो आजकल बच्चों में काफी तेजी से फैलता जा रहा है इसमें इस अनार का सेवन करने से काफी लाभदायक होता है

15. आयुर्वेद में अनार के पत्तों का औषधि बनाकर पेट के कीड़ों को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है

16. अनार के पत्तों को के पानी में उबालकर इस पानी से कुल्ला करने से मुंह के छाले दूर होते हैं

17. अनार के सेवन पेट से संबंधित एसिडिटी, कब्ज जैसी कई रोग भी दूर होते हैं

18. अनार के फूल, फल, बीज, पत्ते, तने, फल के छिलके, एवं पेड़ की छाल इन सभी भागो को आयुर्वेद में औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है

Leave a Comment